होम General 15 भारत के सबसे अमीर आदमी 2021 में

15 भारत के सबसे अमीर आदमी 2021 में

कोरोना वायरस ने एक ओर गरीबों और मध्यम वर्गीय परिवारों को लॉकडाउन और बिज़नेस बंद होने के कारण तोड़ कर रख दिया। वहीं, इस दौरान उद्योगपतियों ने जम कर पैसे बनाएं।

आंकड़े बताते हैं कि लॉकडाउन के दौरान भारत में अरबपतियों की संख्या में रिकार्ड 40 की बढ़ोतरी दर्ज की गई। अब भारत में अरबपतियों यानी Billionaire की संख्या बढ़ कर 177 हो गयी है।

भारत के सबसे अमीर आदमी की लिस्ट में भी उतार चढ़ाव देखने को मिला। तो चलिए, आपको बताते हैं कि 2021 में भारत के सबसे अमीर आदमी की लिस्ट में टॉप 15 (Top 15 Richest Man of India 2021) कौन है।

Table of Contents

भारत में सबसे अमीर आदमी 2021 – Top 15 Richest People of India

15. अजीम प्रेम जी (Azim Premji)

अजीम प्रेम जी (Azim Premji)

दुनिया की मशहूर पत्रिका फोर्ब्स के अनुसार अज़ीम प्रेम जी भारत के सबसे अमीर लोगों की लिस्ट में फिलहाल 15वें नंबर पर हैं। अज़ीम प्रेमजी की कुल दौलत 7.9 बिलियन डॉलर है।

जब फोर्ब्स ने अपनी ये लिस्ट जारी की थी, तब उनकी दौलत 7.9 बिलियन डॉलर थी। लेकिन अब ये बढ़ कर मार्च, 2021 में 8.6 बिलियन डॉलर पहुंच चुकी है। अजीम प्रेमजी सॉफ्टवेयर कंपनी Wipro Limited के चेयरमैन हैं।

अजीम प्रेमजी के पिता पहले खाना बनाने वाले तेल का व्यापार किया करते थे। लेकिन 1966 में पिता की मृत्यु के बाद प्रेमजी Stanford से अपनी पढ़ाई छोड़ कर आ गए। धीरे-धीरे इन्होंने पिता के व्यापार को आगे बढ़ाया।

ये फिर सॉफ्टवेयर के बिजनेस में उतर गए। यहीं से इनकी किस्मत बदलनी शुरू हो गयी और देखते ही देखते ये भारत के सबसे अमीर बिजनेसमैन में से एक बन गए। 75 वर्षीय अजीम प्रेमजी की जगह अब उनके बेटे  Rishad Premji ले रहे हैं। Rishad ने 2019 में विप्रो में एग्जीक्यूटिव चेयरमैन की कुर्सी संभाली थी।

14. कुमार बिड़ला (Kumar Birla)

कुमार बिड़ला (Kumar Birla)

Commodities king के नाम से जाने जाने वाले कुमार बिड़ला की कुल संपत्ति 2020 में 8.5 बिलियन डॉलर थी। मार्च, 2021 में कुमार बिड़ला की कुल संपत्ति 13 बिलियन डॉलर पहुंच चुकी है। कुमार बिड़ला वास्तव में आदित्य बिड़ला ग्रुप के चेयरमैन हैं। कुमार बिड़ला आदित्य बिड़ला के बेटे हैं।

जब 1995 में आदित्य बिड़ला की मौत हो गयी थी तब 28 साल की उम्र में ही कुमार बिड़ला ने कंपनी की बागडोर संभाल ली थी। कुमार बिड़ला के नेतृत्व में Aditya Birla Group ने खूब तरक्की की। आज इस ग्रुप का रेवेन्यू $48.3 billion पहुंच चुका है। आदित्य बिड़ला ग्रुप सीमेंट, टेलीकॉम, कपड़ा, इंश्योरेंस समेत दर्जनों तरह के व्यापार में शामिल है।

13. बर्मन परिवार (Burman family)

बर्मन परिवार  (Burman family)

बर्मन परिवार डाबर कंपनी की मालिक है। डाबर की कुल दौलत 9.2 बिलियन डॉलर है। डाबर कंपनी की शुरुआत कोलकाता के रहने वाले S.K. Burman ने 1884 में कई थी। S.K. Burman पेशे से एक आयुर्वेदिक प्रैक्टिशनर थे।

फिलहाल डाबर कंपनी की बागडोर अमित बर्मन के हाथों में है।   बर्मन परिवार फिलहाल तेल, साबुन, शैंपू, फ्रूट जूस, हाजमोला के व्यापार के साथ-साथ रेस्टोरेंट्स तथा हेल्थकेयर प्रोडक्ट तथा इंश्योरेंस के बिजनेस में भी उतर चुकी है।

12. दिलीप सांघवी (Dilip Shanghvi & family)

दिलीप सांघवी (Dilip Shanghvi & family)

दिलीप सांघवी Pharmaceutical company Sun Pharma के मालिक हैं। फिलहाल Dilip Shanghvi & family की कुल दौलत 9.5 बिलियन डॉलर है।

दिलीप सांघवी ने यहां तक का सफर काफी तेजी से पूरा किया है। इन्होंने Sun Pharmaceutical Industries की स्थापना करने के लिए अपने पिता से सिर्फ 200 डॉलर यानी लगभग 15 हज़ार रुपए लिए थे।

इन्होंने शुरू में सिर्फ Psychiatric drugs से शुरुआत की थी। लेकिन आज ये कई तरह के दवाओं का निर्माण करती है। आज Sun Pharma भारत की सबसे बड़ी और मोस्ट वैल्युएबल फार्मा कंपनी मानी जाती है। दिलीप सांघवी ने पिछले कुछ वर्षों में कई और दूसरे बिज़नेस में भी इन्वेस्ट किया है।

11. सुनील मित्तल (Sunil Mittal)

सुनील मित्तल (Sunil Mittal)
Image by World Economic Forum swiss-image.ch/Photo Remy Steinegger

सुनील मित्तल टेलीकॉम कंपनी एयरटेल के मालिक हैं। इन्हें Telecom tycoon के नाम से भी जाना जाता है। फिलहाल सुनील मित्तल की कुल दौलत 8.2 billion-dollar है।

आज सुनील मित्तल टेलीकॉम के बादशाह माने जाते हैं। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि सुनील मित्तल ने अपने बिजनेस करियर की शुरुआत साइकिल के पार्ट्स बनाने से की थी। उन्होंने 1976 में साइकिल के पार्ट्स बनाने की फैक्ट्री लगाई थी।

इसके बाद जैसे ही संचार क्रांति आई इन्होंने टेलीकॉम में उतरने का फैसला किया और सफलता के झंडे गाड़ दिए। इसके बाद इन्होंने अपने बिजनेस को बढ़ते हुए एयरटेल पेमेंट बैंक भी शुरू किया। इसके अलावा उन्होंने कुछ साल पहले एक और फाइनेंस बैंक का भी अधिग्रहण किया था।

10. लक्ष्मी मित्तल (Lakshmi Mittal)

लक्ष्मी मित्तल (Lakshmi Mittal)

लक्ष्मी मित्तल ArcelorMittal के Chairman हैं। 2020 में जब फोर्स ने दुनिया के सबसे अमीर लोगों की लिस्ट जारी की थी तब लक्ष्मी मित्तल की कुल दौलत 10.3 billion-dollar थी। मार्च 2021 में लक्ष्मी मित्तल की बदौलत अब 16.2 बिलियन डॉलर पहुंच चुकी है। लक्ष्मी मित्तल की कंपनी ArcelorMittal स्टील का उत्पादन करती है।

उत्पादन के हिसाब से ArcelorMittal भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया की Largest Steel and Mining Company है। 70 वर्षीय लक्ष्मी मित्तल ने जनवरी, 2021 में कंपनी के CEO का पद छोड़ते हुए इस पद पर अपने बेटे Aditya Mittal को बैठा दिया है।

9. गोदरेज परिवार (Godrej Family)

गोदरेज परिवार (Godrej Family)

फिलहाल गोदरेज कंपनी के मालिक आदि गोदरेज हैं। और गोदरेज कंपनी का कुल नेटवर्थ 11 billion-dollar है। गोदरेज कंपनी की स्थापना 1897 में एक वकील Ardeshir Godrej ने की थी। समय के साथ ये कंपनी बढ़ती चली गयी। आज गोदरेज घरेलू उपयोग के लगभग सभी वस्तुओं का निर्माण करती है।

गोदरेज की दो अन्य मुख्य Godrej Consumer Products है। इसकी चेयरमैन गोदरेज के वर्तमान चेयरमैन आदि गोदरेज की बेटी  Nisaba Godrej है। इसके अलावा दूसरी सहयोगी कंपनी Godrej Properties है। इसके चेयरमैन आदि गोदरेज के बेटे Pirojsh Godrej है।

8. उदय कोटक (Uday Kotak)

उदय कोटक (Uday Kotak)

उदय कोटक, कोटक महिंद्रा बैंक के मालिक हैं। 2020 के मध्य में उदय कोटक की कुल दौलत 11.3 billion-dollar थी। जो कि 2021 के मार्च महीने में 15.4 बिलियन डॉलर हो चुकी है।

उदय कोटक का परिवार शुरुआती समय में एक ट्रेडिंग कंपनी चलाया करते थे। इसी फैमिली बिजनेस को आगे बढ़ाते हुए उदय कोटक ने 1985 में एक छोटी सी फाइनेंस कंपनी खोली और यह बढ़ती चली गई। इसे ही 2003 में बैंक में बदल दिया गया। आज उदय कोटक की ये कोटक महिंद्रा बैंक भारत की 4 सबसे बड़ी प्राइवेट बैंक में से एक है।

7. पालोनजी मिस्त्री (Pallonji Mistry)

पालोनजी मिस्त्री (Pallonji Mistry)

पालोनजी मिस्त्री Shapoorji Pallonji Group के मालिक हैं। ये कंपनी कंस्ट्रक्शन के क्षेत्र में भारत ही नहीं बल्कि दुनिया की सबसे दिग्गज कंपनी मानी जाती है। इस कंपनी की नींव पालोनजी मिस्त्री के पिता के समय रखी गयी थी। पालोनजी मिस्त्री की उम्र फिलहाल 92 साल है। जबकि इनका नेटवर्थ अभी 15 बिलियन डॉलर है। 2020 में यही नेटवर्थ 11.4 बिलियन डॉलर था।

दुनिया की दिग्गज कंस्ट्रक्शन कंपनी के साथ-साथ मिस्त्री परिवार की टाटा ग्रुप में 18.4 प्रतिशत हिस्सेदारी है। पालोनजी मिस्त्री के बड़े बेटे Shapoor  भारत की सबसे बड़ी वाटर प्यूरीफायर कंपनी, S. P group के मालिक हैं। वहीं, इनके छोटे बेटे सायरस मिस्त्री टाटा ग्रुप के प्रमुख रह चुके हैं। इन दोनों के अलावा Pallonji Mistry के 2 और यानी कुल 4 बच्चे हैं।

6. सायरस पूनावाला (Cyrus Poonawalla)

सायरस पूनावाला (Cyrus Poonawalla)

घोड़े का व्यापार करने वाले के बेटे Cyrus Poonawalla ने 1966 में Serum Institute of India की नींव रखी। ये कंपनी मुख्य रूप से वैक्सीन का निर्माण करती है। देखते ही देखते ये कंपनी उत्पादन के हिसाब से दुनिया की सबसे बड़ी वैक्सीन बनाने वाली कंपनी बन गयी। 2020 में सायरस पूनावाला की दौलत 11.5 बिलियन डॉलर थी। 2021 कि मार्च में उनकी दौलत 12.8 बिलियन डॉलर पहुंच चुकी है।

सायरस पूनावाला की उम्र 79 वर्ष है। अब इनके बेटे Adar Poonawalla कंपनी के काम काज को देखते हैं। फिलहाल सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया कोरोना वैक्सीन बना कर अपना नेटवर्थ दिन दूनी रात चौगुनी रफ्तार से बढ़ा रही है।

5. हिंदुजा ग्रुप (Hinduja brothers)

हिंदुजा ग्रुप (Hinduja brothers)

2020 में फोर्ब्स द्वारा जारी किए गए लिस्ट के अनुसार भारत के सबसे अमीर आदमियों की लिस्ट में पांचवे नंबर पर हिंदूजा ब्रदर्स थे। दरअसल हिंदूजा ब्रदर्स हिंदूजा ग्रुप नाम की एक कंपनी चलाते हैं। ये कंपनी दुनिया भर के कई देशों में अलग-अलग तरह के व्यापार करती है।

हिंदुजा ब्रदर्स में शामिल चार भाइयों के नाम श्रीचंद, गोपीचंद प्रकाश और अशोक है। 2020 में हिंदूजा ब्रदर्स की कुल दौलत 12.8 बिलियन डॉलर थी जो कि 2021 में बढ़कर 14.6 बिलियन डॉलर हो चुकी है। हिंदुजा ग्रुप ट्रक, केबल टीवी, लुब्रिकेंट, रियल एस्टेट के साथ साथ कई और तरह के व्यापार में शामिल है। हिंदुजा ग्रुप कुछ देशों में बैंक की भी मालिक है।

4. राधाकिशन दमानी (Radhakishan Damani & family)

राधाकिशन दमानी (Radhakishan Damani & family)

राधाकिशन दमानी को भारत का रिटेल किंग कहा जाता है। फिलहाल राधाकिशन दमानी का नेटवर्थ 15.4 billion-dollar है। इन्होंने रिटेल बिजनेस के क्षेत्र में 2002 में कदम रखा था तथा अपना पहला DMart store खोला था।  इसके बाद ये लगातार आगे बढ़ते गए। आज पूरे देश में 214 DMart Stores हैं।

राधाकिशन दमानी अब कई और बिज़नेस में उतर चुके हैं। इन्होंने कई बड़ी बड़ी कंपनियों में इन्वेस्ट किया हुआ है। इसके अलावा राधाकिशन दमानी मुंबई में स्थित 156 कमरे वाले Radisson Blu Resort के भी मालिक हैं।

3. शिव नाडर (Shiv Nadar)

शिव नाडर (Shiv Nadar)

शिव नाडर HCL कंपनी के मालिक हैं। HCL मुख्य रूप से सॉफ्टवेयर प्रोवाइडर के रूप में काम करती है। शिव नाडर ने इस कंपनी की नींव 1976 में एक अन्य व्यक्ति के साथ मिल कर रखी थी। इस कंपनी को तब मुख्य रूप से कैलकुलेटर और माइक्रोप्रोसेसर बनाने के लिए बनाया गया था। धीरे-धीरे ये IT Field में एक बड़ा नाम बन गयी।

आज एचसीएल दुनिया भर के 49 देशों में अपनी सेवाएं देती है तथा इस कंपनी में लगभग 150000 लोग काम करते हैं। जुलाई, 2020 में शिव नाडर ने इस कंपनी के चेयरमैन का पद अपनी बेटी Roshni Nadar Malhotra को दे दिया है। शिव नाडर की कुल संपत्ति 2020 में 20.4 बिलियन डॉलर थी। ये अब $24.1B पहुंच चुकी है।

2. गौतम अडानी (Gautam Adani)

गौतम अडानी (Gautam Adani)
Image by www.eyevine.com

अदानी ग्रुप के मालिक गौतम अडानी ने पिछले कुछ वर्षों में दिन दूनी रात चौगुनी रफ्तार से तरक्की की है। शुरू में ये बंदरगाह का संचालन किया करते थे। धीरे-धीरे इन्होंने अपने बिजनेस को बढ़ाते हुए कई एयरपोर्ट का अधिग्रहण कर लिया है। यहां तक कि भारत के दूसरे सबसे व्यस्त माने जाने वाले एयरपोर्ट, मुंबई एयरपोर्ट में भी गौतम अडानी की हिस्सेदारी 74 प्रतिशत है।

गौतम अडानी एक दो नहीं बल्कि दर्जनों तरह के बिजनेस करते हैं। इनके कई एयरपोर्ट हैं। इसके साथ ही ये गैस, कोयला, बिजली समेत कई दूसरे व्यापार में शामिल है। 2020 में गौतम अडानी ने जबरदस्त कमाई करते हुए अमीरों की लिस्ट में लंबी छलांग लगाई थी। फिलहाल गौतम अडानी की कुल संपत्ति 25.2 billion-dollar है।

1. मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani)

मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani)

88 बिलियन डॉलर के मालिक मुकेश अंबानी भारत के सबसे अमीर आदमी है। ये रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक हैं। रिलायंस इंडस्ट्रीज गैस, पेट्रोलियम, टेलीकॉम के साथ-साथ रिटेल बिजनेस की भी बेताज बादशाह है। टेलीकॉम सेक्टर में Jio के साथ कदम रखने के साथ ही मुकेश अंबानी की कमाई में जबरदस्त बढ़ोतरी देखी गई थी।

पिछले कुछ वर्षों से मुकेश अंबानी को कोई दूसरा बिजनेसमैन चुनौती नहीं दे पाया है। अब भी मुकेश अंबानी की दौलत काफी तेजी से बढ़ रही है।

सिर्फ लॉकडाउन में ही मुकेश अंबानी ने अपने शेयर बेचते हुए लगभग 20 billion-dollar जुटाए थे। रिलायंस कंपनी बैंकिंग सेक्टर में भी कदम रखने जा रही है। इसके अलावा रिलायंस ग्रुप मुंबई इंडियंस के साथ-साथ कई दूसरी एस्पोर्ट्स टीम के भी मालिक है।