होम Nutrition मेथी के 12 फायदे आपको चौंका देंगे (Methi Ke Fayde in Hindi)

मेथी के 12 फायदे आपको चौंका देंगे (Methi Ke Fayde in Hindi)

Methi Benefits in Hindi -ज़्यादातर देखा गया है कि जो चीज जितनी कड़वी होती है, उतनी ही अधिक वह फायदेमंद भी होती है। जैसे – करेला, नीम इत्यादि। इन्हीं कड़वी चीज़ों में एक नाम मेथी (Fenugreek Seeds) का भी लिया जाता है। मेथी को सदियों से खाने और औषधि में इस्तेमाल किया जा रहा है।

इसका उपयोग मेथी के पराठे, मेथी की चटनी, मेथी की सब्जी, मेथी के पुलाव आदि में होता है। इसके अलावा यह कई प्रकार की बीमारी के इलाज में भी कारगर है। साथ ही यह बालों और त्वचा के लिए भी लाभकारी है। मेथी के प्रकार दो है – (1) मेथी के दाने, (2) मेथी के पत्ते। दोनों का प्रयोग अलग-अलग तरह से होता है।

इस पोस्ट में हम जानेंगे कि Methi Kya Hai, Methi Ke Fayde Kya Hai, Methi Ke Poshak Tatva, Methi Kya Kaam Aati Hai, Methi Ke Nuksan इत्यादि। तो आइए इसी के साथ हम आगे बढ़ते हैं और मेथी की पूरी जानकारी लेते हैं।

मेथी क्या होता है (What is Fenugreek in Hindi)

मेथी क्या काम आती है – मेथी एक तरह की खाद्य सामग्री होती है, जिसका इस्तेमाल आहार में कई प्रकार से कर सकते हैं। जैसे इसके हरे पत्तों का सेवन सब्जी के रूप में कर सकते हैं। जबकि, इसके दानों का उपयोग भोजन बनाते समय छोंका इत्यादि में किया जाता है। इसके अलावा मेथी के पुलाव को भी लोग बड़े ही शौक से बनाकर खाते हैं।

वहीं, मेथी से कई प्रकार की औषधि भी तैयार की जाती है। मेथी का पौधा 2 से 3 फुट लंबा होता है। इसकी फली में छोटे-छोटे पीले-भूरे रंग के खुशबूदार दाने निकले होते हैं। भूमध्य क्षेत्र, पश्चिम एशिया एवं दक्षिण यूरोप में मेथी की खेती बहुतायत में की जाती है।

मेथी के अन्य नाम (Other Names for Fenugreek)

भारत में मेथी को लोग अलग-अलग नाम से जानते हैं। हिंदी, पंजाबी, गुजराती, बंगाली और मराठी में इसे मेथी के नाम से जाना जाता है। जबकि संस्कृत में इसको मेथिका कहते हैं। इसके अलावा अंग्रेजी में यह फेनुग्रीक, तेलुगु में यह मेंतुलु, तमिल में वेंडयम, मलयालम में वेन्तियम, कन्नड़ में मेन्तिया तथा लेटिन में यह त्रायिगोनेल्ला फोएनम ग्रीकम कहलाती है।

मेथी के पोषक तत्व (Fenugreek Nutrients)

मेथी में आपको प्रोटीन, फाइबर, विटामिन सी, आयरन, नियासिन, पोटेशियम आदि भरपूर मात्रा में मिलते हैं। इसके अलावा इसमें डाओस्जेनिन नामक कम्पाउन्ड भी मौजूद होता है। यह एस्ट्रोजन सेक्स हार्मोन को बढ़ाने में अपनी एक अहम भूमिका निभाता है। इस प्रकार मेथी सेक्सुअल समस्याओं को दूर करने का काम भी करती है। 

ऊपर आपने जाना मेथी क्या होती है, Methi Kya Kaam Aati Hai, मेथी में मौजूद पोषक तत्व इत्यादि। अब आगे हम जानेंगे कि मेथी हमारे लिए कितनी लाभदायक है।

मेथी के फायदे (Benefits of Methi in Hindi)

मेथी के फायदे सेहत के लिए (Methi Benefits for Health)

(1) कोलेस्ट्रॉल के लिए लाभदायक (Beneficial for Cholesterol)

मेथी कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित (Control) करने में मदद करती है। कोलेस्ट्रॉल का बढ़ना यानी शरीर में कई प्रकार की समस्याओं का उत्पन्न होना। ऐसी स्थिति में कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने के लिए मेथी का इस्तेमाल एक अच्छा ऑप्शन हो सकता है।

एक वैज्ञानिक शोध के मुताबिक, मेथी के दानों में नारिंगेनिन नामक फ्लेवोनोइड मौजूद होता है। यह खून में लिपिड के लेवल को कम करने का कार्य कर सकता है।

इसके अलावा मेथी में एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं, जिसकी वजह से मरीज का उच्च कोलेस्ट्रॉल (High Cholestrol) कम हो सकता है। इस तरह मेथी के बीज कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए भी लाभकारी हो सकते हैं।

(2) मधुमेह के लिए फायदेमंद (Methi Benefits for Diabetes)

मधुमेह के मरीजों के लिए मेथी बहुत ही गुणकारी है। जैसा कि हम सभी जानते हैं, शुगर के मरीजों को अपने खान-पान का खासतौर से ख्याल रखना चाहिए। ऐसे लोग अपनी डाइट में मेथी के दाने को शामिल करके, उसका लाभ पा सकते हैं।

एक वैज्ञानिक शोध के मुताबिक, मेथी के बीज के सेवन से खून में शुगर की मात्रा कंट्रोल हो सकती है। इसके साथ ही यह टाइप-2 डायबिटीज के मरीजों में इंसुलिन प्रतिरोध को भी कम करने का कार्य कर सकती है।

एक अन्य शोध के अनुसार, मधुमेह पर मेथी का लाभदायक असर इसमें मौजूद हाइपोग्लिसेमिक प्रभाव की वजह से हो सकता है। यह मुख्य रूप से रक्त में शुगर लेवल को कम करने का कार्य करता है।

इस वजह से, सामान्य रक्त शुगर वालों को मेथी का बहुत अधिक मात्रा में सेवन नहीं करना चाहिए।

(3) वजन घटाने में मददगार (Methi Benefits for Weight Loss)

यदि आप वजन घटाना चाहते हैं तो मेथी का इस्तेमाल आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि, मेथी आपके शरीर (Body) में फैट को जमा होने से रोकने का कार्य कर सकती है। इसमें अच्छी मात्रा में फाइबर मौजूद होता है।

जो आहार को पचाने के साथ ही आपकी भूख को भी शांत रखने में सहायक हो सकता है। इसके सेवन से आप अपने वजन को बढ़ने से रोक सकते हैं।

इसके अलावा मेथी में अलग अलग प्रकार के पॉलीफेनॉल्स मौजूद होते हैं, जो आपका वजन कम करने में मदद कर सकते हैं। इस प्रकार मेथी का सेवन करने के लाभ वजन घटाने के लिए भी हो सकते हैं।

(4) अर्थराइटिस के दर्द में राहत (Pain Relief of Arthritis)

मेथी जोड़ों के दर्द के लिए भी लाभकारी होती है। जैसे-जैसे व्यक्ति की उम्र बढ़ती है, वैसे-वैसे व्यक्ति के जोड़ों में सूजन आने लगती है। जिस कारण व्यक्ति के जोड़ों में असहनीय दर्द हो सकता है।

ऐसे दर्द को जोड़ों का दर्द या अर्थराइटिस कहते हैं। इससे छुटकारा पाने के लिए मेथी एक बहुत ही लाभकारी नुस्खा है, जिसका इस्तेमाल सदियों से हो रहा है।

मेथी में एंटीऑक्सीडेंट व एंटीइंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं। ये गुणकारी तत्व जोड़ों की सूजन को कम करके अर्थराइटिस के दर्द से आराम दिलाने में सहायक हो सकते हैं।

इसके अलावा मेथी में कैल्शियम, आयरन और फास्फोरस भी भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। यही वजह है कि मेथी के औषधीय गुण से हड्डियों और जोड़ों को आवश्यक पोषक तत्व मिलते हैं। जिससे आपकी हड्डियां स्वस्थ व मजबूत बनी रह सकती हैं।

(5) कैंसर के लिए फायदेमंद (Beneficial for Cancer)

कैंसर एक बहुत ही खतरनाक बीमारी है, जिसका जल्द से जल्द इलाज करना बहुत ही ज़रूरी होता है। वरना यह बीमारी आपकी जान ले सकती है। ऐसे में मेथी के बीज के फायदे देखे जा सकते हैं।

एक मेडिकल रिसर्च के मुताबिक, मेथी में एंटी कैंसर प्रभाव मौजूद होते हैं, जो कैंसर की समस्या को दूर रखने का कार्य कर सकते हैं। लेकिन, यदि किसी व्यक्ति को कैंसर रोग है, तो उसे तुरंत डॉक्टर के पास जाकर इलाज कराना चाहिए।

(6) हृदय के लिए लाभकारी (Beneficial for Heart)

यदि आप अपने दिल को स्वस्थ रखना चाहते हैं तो उसके लिए मेथी का सेवन लाभदायक साबित हो सकता है। मेथी में एंटीआक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं, जो दिल की बीमारी के लिए लाभकारी होता है।

यह रक्त-संचार को ठीक रखने में सहायता करता है। इसके अलावा मेथी में घुलनशील फाइबर पाया जाता है, जो हृदय रोग के खतरे को कम करता है। अपने दिल को स्वस्थ रखने के लिए आप मेथी के 10-15 मिली काढ़े में शहद को मिलाकर उसे पिएं। ऐसा करने से आपको फायदा होगा।

(7) रक्तचाप में करे सुधार (Improve Blood Pressure)

मेथी के लाभ उच्च रक्तचाप यानी हाई ब्लड प्रेशर में भी देखने को मिलते हैं। ब्लड प्रेशर कई तरह की बीमारियों की वजह बन सकता है। इनमें दिल की परेशानी भी शामिल है।

ऐसे में मेथी के औषधीय गुण, इस समस्या को काफी हद तक कम करने में सहायक हो सकते हैं। एक वैज्ञानिक शोध से यह पता चला है कि, मेथी में एंटीहाइपरटेंसिव प्रभाव मौजूद होता है। यह बीपी की समस्या को कम करने में मददगार साबित हो सकता है।

(8) किडनी रखे स्वस्थ (Keep Kidney Healthy)

अगर आप चाहते हैं कि आपकी किडनी अच्छी प्रकार काम करे तो आप अपने भोजन में मेथी को शामिल कर सकते हैं। कई वैज्ञानिक शोध के अनुसार, मेथी किडनी के लिए लाभदायक है। मेथी के दानों में पॉलीफेनोलिक फ्लेवोनोइड मौजूद होता है, जो किडनी को बेहतर तरीके से कार्य करने में सहायता करता है। इसके साथ ही यह किडनी के आसपास एक रक्षा कवच भी बनाता है

इस कवच के द्वारा इसके सेल नष्ट होने से बच सकते हैं। यह बात एनसीबीआई की तरफ से किए गए एक शोध से पता चलती है। इस प्रकार मेथी आपकी किडनी को भी स्वस्थ रखने में मदद कर सकती है।

(9) कब्ज के लिए फायदेमंद (Beneficial for Constipation)

अगर आप कब्ज की समस्या से परेशान हैं तो इसके लिए मेथी का सेवन आपके लिए लाभदायक हो सकता है। कब्ज में मेथी का औषधीय गुण फायदेमंद होता है। कब्ज की समस्या से छुटकारा पाने के लिए आप मेथी के पत्तों का साग बनाकर खाएं। ऐसा करने से कब्ज की परेशानी (Problem) से राहत मिलती है। मेथी मल को नरम करके आपके कब्ज को ठीक करने का काम करती है।

(10) स्तन-दूध बढ़ाने में मदगार (Breast Milk Boost)

प्रसव के पश्चात नवजात शिशु के लिए मां के दूध से बेहतर कोई आहार नहीं होता है। ऐसे में मां स्तन-दूध बढ़ाने के लिए मेथी के बीज की हर्बल चाय का सेवन कर सकती है। एक शोध के मुताबिक, स्तन दूध की गुणवत्ता और मात्रा को बढ़ाने के लिए मेथी का सेवन कर सकते हैं।

मेथी के लाभ त्वचा के लिए (Methi Benefits for Skin in Hindi)

(11) त्वचा के लिए गुणकारी (Beneficial for Skin)

मेथी का उपयोग त्वचा के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार, मेथी में एंटीऑक्सीडेंट, एंटीरिंकल, स्किन स्मूदिंग तथा मॉइस्चराइजिंग गुण मौजूद होते हैं। इसी कारण मेथी को त्वचा के लिए लाभकारी माना जाता है।

इसके अलावा मेथी से त्वचा रोग का इलाज भी किया जा सकता है। इसके लिए आप मेथी का लेप तैयार कर लें। इस लेप को त्वचा रोग, जैसे – दाद-खाज-खुजली या फिर एग्जिमा वाली जगह पर लगाएं। ऐसा करने से आपको काफी लाभ मिलेगा।

मेथी के फायदे बालों के लिए (Methi Benefits for Hair in Hindi)

(12) बालों के लिए असरदार (Methi Ke Fayde for Hair)

मेथी के फायदे बालों के लिए भी देखने को मिलते हैं। मेथी का इस्तेमाल करने से आपके बालों का झड़ना बंद हो सकता है। एक रिसर्च के अनुसार, मेथी के बीज में प्रोटीन भरपूर मात्रा में पाया जाता है। जो कि आपके बालों के लिए आवश्यक होता है। इसके द्वारा आप गंजेपन, बालों का पतला होना तथा बालों के झड़ने से छुटकारा पा सकते हैं।

इसके अलावा मेथी में लेसिथीन भी मौजूद होता है। यह आपके बालों को प्राकृतिक रूप से मजबूत (Strong) बनाता है। साथ ही यह बालों को मॉइस्चराइज करने का कार्य भी कर सकता है। इसके द्वारा आप रूसी को भी दूर भगा सकते हैं। इस प्रकार मेथी पाउडर के लाभ आप अपने बालों पर साफ देख सकते हैं।

ऊपर हमने मेथी के 12 फायदों के बारे में पढ़ा। इन मेथी के लाभ के बारे में पढ़कर आप जान गए होंगे कि मेथी आपके लिए कितनी उपयोगी है। अब आगे हम मेथी की तासीर और मेथी के नुकसान के बारे में जान लेते हैं।

मेथी की तासीर कैसी होती है (How Does Fenugreek Taste)

मेथी (Methi) की तासीर गर्म होती है। इसलिए अगर आप इसका सेवन सर्दियों में करें तो यह आपके लिए ज़्यादा लाभकारी हो सकती है। इसके अलावा, यदि इसे रातभर पानी में भिगोकर सुबह इसका सेवन करा जाए तो भी यह आपके लिए फायदेमंद होगी।

मेथी खाने के नुकसान (Methi Ke Nuksan in Hindi)

  • ऐसा ज़रूरी नहीं है कि मेथीदाने का सेवन सभी को सूट करे। कुछ लोगों के लिए यह नुकसानदायक भी होता है। खास तौर से डायबिटीज के मरीजों को मेथी का सेवन सावधानी से करना चाहिए। क्योंकि यह आपके शुगर केवल को प्रभावित करती है।
  • मेथी की तासीर गर्म होने के कारण, कई बार इससे मूत्र संबंधी परेशानी भी हो सकती है। इसके अलावा मूत्र में अजीब से गंध आए या फिर अन्य समस्याएं हों तो आप इसका इस्तेमाल सावधानी से करें।
  • मेथीदानों का सेवन करने से कभी-कभी त्वचा से संबंधित परेशानियां भी हो सकती हैं। जैसे – त्वचा पर सूजन आना, दर्द होना इत्यादि।
  • कई बार इसको खाने से पेट संबंधी समस्याएं भी उत्पन्न हो जाती हैं। जैसे – गैस बनना, खट्टी डकार आना इत्यादि।
  • गर्भवती महिला या नवजात बच्चे की मां को मेथी का सेवन बहुत ही सावधानी से करना चाहिए। क्योंकि इससे दस्त आदि की समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं। 

मेथी के नुकसान जानने के बाद आपको इसका सेवन सावधानी के साथ करना होगा। ऐसी समस्याओं से बचने के लिए आप मेथी की मात्रा का खास ध्यान रखें। इसके अलावा अगर यह आपको सूट नहीं कर रही है तो आपको इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

उम्मीद है कि आज की मेरी यह पोस्ट आपको पसंद आयी होगी। यदि Methi Ke Fayde in Hindi की यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी रही हो तो इसे शेयर भी करें।