होम Nutrition जिनसेंग क्या है – Ginseng Benefits, Uses, Side Effects in Hindi

जिनसेंग क्या है – Ginseng Benefits, Uses, Side Effects in Hindi

आज के आधुनिक युग में चिकित्सा के क्षेत्र में अंग्रेजी दवाओं का बोल बाला है। लेकिन, कुछ साल पहले तक, जब अंग्रेज़ी दवाओं का चलन कम था, तब इलाज के लिए प्राकृतिक रूप से उपलब्ध जड़ी बूटियों का ही उपयोग किया जाता था।

समय के साथ चिकित्सा विज्ञान आधुनिक होता चला गया। इसके साथ ही जड़ी-बूटियों का दायरा भी सिमटता चला गया। इसके बावजूद कई ऐसी जड़ी बूटियां हैं जो कि आज भी उपयोग में है। जिनसेंग (Ginseng) भी एक ऐसा ही तत्व है जिसका उपयोग सदियों से इलाज के लिए किया जाता रहा है।

इस आर्टिकल में हम आपको इसी जिनसेंग के फायदे, जिनसेंग के उपयोग तथा जिनसेंग के नुकसान यानी साइड इफेक्ट के बारे में बता रहे हैं।

जिनसेंग क्या है – What is Ginseng in Hindi

जिनसेंग Panax समूह के पौधों की जड़ो से प्राप्त किया जाने वाला एक बेहद ही गुणकारी तत्व होता है। इसका उपयोग चिकित्सा के क्षेत्र में बड़े पैमाने पर किया जाता है। आयुर्वेद चिकित्सा के क्षेत्र में सदियों से जिनसेंग का इस्तेमाल होता आया है।

जिनसेंग का उपयोग सबसे पहले चीन में किया गया था। यहीं से समय के साथ पूरे विश्व में फैल गया। इतिहास से पता चलता है कि जिनसेंग का उपयोग 15वीं शताब्दी से भी पहले होता आया है। इतिहास में जिनसेंग को Superior tonic की संज्ञा दी गयी है।

जिनसेंग के प्रकार – Types of Ginseng In Hindi

जिनसेंग के कई प्रकार हैं। इन सबके अपने-अपने फायदे भी हैं। जिनसेंग के प्रकार का वर्गीकरण मुख्य रूप से इसके पाए जाने वाले क्षेत्र के आधार पर किया गया है।

इसके कुछ प्रकार निम्नलिखित हैं –

  • कोरियन जिनसेंग
  • साउथ चाइना जिनसेंग
  • साइबेरियन जिनसेंग
  • अमेरिकन जिनसेंग
  • वियतनामी जिनसेंग
  • रेड जिनसेंग

जिनसेंग का पौधा मुख्य रूप से ठंडे वातावरण में ही उगता है। हालांकि कुछ प्रकार के जिनसेंग गर्म जगहों पर भी पाए जाते हैं। एक पौधा के उगने के लगभग 4-6 वर्षों के बाद ही इससे Ginseng प्राप्त किया जाता है।

जिनसेंग के उपयोग – Ginseng Use in hindi

जिनसेंग का उपयोग मुख्य रूप से दवाओं के रूप में ही किया जाता है। लेकिन दवाओं के अलावा भी इसका उपयोग कई अन्य तरीकों से भी किया जाता है।

कोरियन जिनसेंग ( Korean Ginseng) की पत्तियों तथा तने का उपयोग चाय बनाने में तथा सूप बनाने में भी किया जाता है। इसके अलावा इसका उपयोग कुछ प्रकार के मादक पदार्थों के निर्माण में भी किया जाता है। इन सब के अलावा Ginseng का सबसे अधिक उपयोग दवा के ही रूप में किया जाता है।

जिनसेंग के फायदे – Ginseng Benefits In Hindi

जैसा की ऊपर बताया गया है कि Ginseng ka Use शुरू से ही दवा के रूप में किया जाता रहा है। इसका मुख्य कारण ये है कि यह एक-दो नहीं बल्कि अनगिनत बीमारियों में राहत देता है। Ginseng में मुख्य रुप से Ginsenosides तथा Gintonin नाम के तत्व पाए जाते हैं। ये तत्व कई तरह से लाभ पहुंचाते हैं।

जिनसेंग का लाभ यानी ginseng ke fayde hindi mein निम्नलिखित हैं –

इंफ्लामेशन से आराम देता है – जिनसेंग में Antioxidant तथा Anti-inflammatory गुण पाए जाते हैं। इस तरह ये कई प्रकार की बीमारियों में होने वाले सूजन यानी Inflammation  से आराम पहुंचाता है।

हाई ब्लड सुगर कम करता है –  जिनसेंग में ऐसे तत्व हैं जो कि शरीर में इंसुलिन के प्रोडक्शन को बढ़ाता है। इंसुलिन की मात्रा शरीर में बढ़ने से Blood Sugar भी कम होता है। Blood Sugar कम करने के लिए मुख्य रूप से Red Ginseng का उपयोग किया जाता है।

तनाव कम करता है – Red ginseng शरीर में  Antioxidant enzyme की एक्टिविटी को बढ़ा देता है। इससे व्यक्ति को तनाव यानी stress से काफी आराम मिलता है।

दिमाग को शांत तथा स्वस्थ रखता है – जिनसेंग में ऐसे गुणकारी तत्व पाए जाते हैं जो कि Brain Function को काफी अच्छा रखता है। यह दिमाग को काफी शांत रखता है। इसके अलावा यह याददाश्त तथा स्वभाव को भी बेहतर रखता है।

जिनसेंग का उपयोग अल्जाइमर के मरीज के इलाज में भी किया जाता है।

इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के इलाज में – Erectile Dysfunction (ED) के इलाज में भी जिनसेंग काफी लाभकारी सिद्ध होता है। जिनसेंग पुरुष के यौन अंगों तक Blood Flow बढा देता है। इस कारण इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के लक्षणों से व्यक्ति को काफी आराम मिलता है। Ginseng के इसी गुण के कारण इसका उपयोग स्वस्थ पुरुषों द्वारा भी यौनवर्धक दवाओं के रूप में किया जाता है।

कैंसर के खतरे को कम करता है – कई वैज्ञानिक खोजों के बाद ये साबित ही चुका है कि Ginseng में ऐसे गुणकारी तत्व पाए जाते हैं जो कि मनुष्यों में कैंसर जैसी घातक बीमारी के खतरे को भी काफी कम करता है। इस ओर अभी और खोज की जा रही है।

उच्च रक्तचाप कम करता है –  जिनसेंग High Blood Pressure के मरीज़ों के लिए भी काफी लाभकारी माना जाता है। इसमें ऐसे गुण होते हैं जो कि हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में मदद करता है।

जिनसेंग के उपयोग से रोगप्रतिरोधक क्षमता यानी Immune System बेहतर होता है।

थकान कम करता है – कुछ लोगों को थोड़े काम के बाद या कुछ कदम चलने के बाद ही थकान महसूस होने लगता है। ऐसे  लोगों के लिए जिनसेंग काफी फायदेमंद साबित होता है। जिनसेंग का सेवन करने से शरीर में अतिरिक्त ऊर्जा पैदा होता है। उससे जल्दी थकान की समस्या से काफी राहत मिलती है।

इन सभी फायदे के अलावा भी जिनसेंग के लाभ कई हैं। यही कारण है कि इसका उपयोग बड़े स्तर पर किया जाता है।

जिनसेंग के साइड इफेक्ट्स – Ginseng Side Effects in Hindi

एक ओर जहां जिनसेंग के फायदे कई हैं, तो दूसरी ओर इसके कुछ नुकसान भी हैं। हालांकि ये नुकसान बहुत गंभीर नहीं होते  हैं। फिर भी विशेषज्ञ जिनसेंग का उपयोग करते समय डॉक्टर की सलाह लेने को कहते हैं।

जिनसेंग के नुकसान निम्नलिखित है –

  • एक ओर जिनसेंग का उपयोग Blood pressure तथा Blood Sugar को कम करने के लिए किया जाता है। लेकिन अगर इसे कम करने के लिए अधिक मात्रा में Ginseng का उपयोग किया जाता है तो ब्लड शुगर तथा प्रेशर सामान्य से भी नीचे जा सकता है।
  • जिनसेंग के लगातार इस्तेमाल से Heart Problem हो सकता है।
  • अगर कोई मरीज़ Anticoagulant drugs लेता है, तथा इसके साथ Ginseng लेता है तो एंटीकोगुलेन्ट ड्रग्स का प्रभाव कम हो सकता है।
  • जिनसेंग का ओवर डोज़ होने पर होंठ तथा मुंह सूखने लगता है। व्यक्ति तनाव में आ सकता है। हांथ तथा पैरों में कंपन्न देखने को मिल सकता है। भूख लगना भी कम हो सकता है। कई बार Overdose की वजह से  Bleeding की समस्या हो सकती है।
  • Breastfeeding कर रहे बच्चों जिनसेंग न देने की सलाह दी जाती है।
  • गर्भवती महिलाओं को भी जिनसेंग का सेवन न करने की सलाह दी जाती है।
  • किसी अन्य दवाओं के उपयोग के साथ जिनसेंग का सेवन करना समस्या का कारण बन सकता है। इस लिए अगर कोई अन्य दवा का सेवन करने पर Ginseng का सेवन केवल डॉक्टर की सलाह पर करें।

ध्यान दें कि जिनसेंग अलग-अलग बीमारियों या समस्याओं के लिए अलग-अलग मात्रा या डोज़ में दी जाती है। इस लिए अपनी मर्ज़ी से जिनसेंग का डोज निर्धारित करने या लेने की बजाय हमेशा विशेषज्ञों की सलाह पर ही इसका सेवन करें।